Advertisement

झीरम कांड पर CM भूपेश बघेल का बयान, बोले-‘केंन्द्र में हमारी सरकार बनते ही…’

0
CM Bhupesh Baghel

CM Bhupesh Baghel

Share
Advertisement

Chhattisgarh: झीरम कांड की जांच को लेकर मुख्यमंत्री (CM) भूपेश बघेल ने बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि जिस दिन केंद्र में हमारी सरकार बनेगी, उस दिन दूध का दूध, पानी का पानी हो जाएगा। मुख्यमंत्री डॉ. भूपेश बघेल ने मीडिया से चर्चा में कहा कि पहले रमन्ना का नाम था, बाद में 2014 में प्रारंभिक रिपोर्ट प्रस्तुत किया, लेकिन आश्चर्यजनक ढंग से रमन्ना का नाम नहीं था। मोदी सरकार रमन्ना और गणपति को क्यों बचा रही है? उन्होंने कहा कि डॉ. रमन सिंह के खासमखास धरमलाल कौशिक ने आयोग के गठन के बाद स्टे लिया। बीजेपी जांच में रुकावट क्यों डाल रही है? बीजेपी किसको छुपाना चाह रही है? जो सवाल मैंने उठाये हैं जवाब दें।

Advertisement

सीएम भूपेश बघेल ने कहा

मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि झीरम की दसवी बरसी है, श्रद्धांजलि देने जगदलपुर जा रहा हूं। झीरम को लेकर भाजपा बहुत हल्के ढंग से बात कर रही है, वो बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है हास्यास्पद है। झीरम से पूरा देश दहल गया था। तत्कालीन यूपीए ने एनआई की जाँच की घोषणा की थी। जाँच शुरू हुई और जो एफआईआर हुआ, उसमे 2014 तक रमन्ना और गणपति का नाम था। संपति कुर्क करने का आदेश था, कुछ संपत्ति कुर्क भी हुई। उसके बाद एनआईए की प्रारंभिक रिपोर्ट में उन दोनों का नाम नहीं था।

उन्होंने कहा कि आयोग की जो रिपोर्ट आई है, उसे सरकार और मुख्य सचिव को न देकर राजभवन में दिया जाता है, ऐसा कभी हुआ है? जब खबरें चलने लगी हमने दो सदस्यीय टीम का गठन किया। धरमलाल कौशिक उस पर स्टे ले आते है। जेठमलानी भाजपा नेता हैं, केस लड़ते है। धरमलाल कौशिक रमन सिंह के खासमखास है, नान पर भी कोर्ट से स्टे ले आते हैं। ये किस मुँह से बात करते हैं। अब भाजपा को जवाब देना है। जैसे यूपीए की सरकार हटी, और एनडीए की सरकार आई। केवल दंडकारण्य मान कर जाँच ख़त्म कर दी गई। भाजपा कहती है जेब में पर्ची लेकर घूम रहे हैं उसका जवाब दे दें।

रिपोर्ट- निशा द्विवेदी

ये भी पढ़े:Chhattisgarh: अंधविश्वास! का खेल, तांत्रिक ने झाड़ फूंक कर युवती की कर दी हत्या

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *