Chhattisgarh News: बस्तर वासियों को रेलवे की सौगात, सुविधाओं से लैस होगा जगदलपुर स्टेशन

Share

Chhattisgarh News: छत्तीसगढ़ के बस्तर वासियों द्वारा रेल सुविधाओं को बढ़ाने के लिए लंबे समय से किए जा रहे मांग को देखते हुए इस साल के रेल बजट में जगदलपुर रेलवे स्टेशन को अमृत स्टेशन योजना के अंतर्गत जोड़ा गया है। जिसके तहत दो मंजिला भवन, प्लेटफार्म, फुटओवर ब्रिज समेत अन्य आधुनिक सुविधाएं से रेलवे स्टेशन को लैस किया जा रहा है। आने वाले 1 अप्रैल से ही इसका काम शुरू कर दिया जाएगा। इससे यात्रियों को भी कई तरह की आधुनिक सुविधाएं मिलेंगी। जिसका सीधा असर उनके सफर पर पड़ेगा।

ट्रेन सेवाओं को भी बढ़ाया गया

दरअसल ईस्ट कोस्ट रेलवे के जनरल मैनेजर मनोज शर्मा औऱ DRM अनूप सतपथी ने छत्तीसगढ़ के जगदलपुर, किरंदुल और ओड़िशा के जयपुर और कोरापुट स्टेशनों का निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि क्षेत्र में रेल मंत्रालय द्वारा जारी मापदंडों के अनुसार और कई जगहों पर और भी कई विकासात्मक गतिविधियां बढ़ाई जा रही है। इस बार रेल बजट में ईस्ट कोस्ट रेलवे के कई स्टेशनों को अमृत भारत योजना के तहत आधुनिक सुविधाओं से जोड़ा गया है, जिसमें जगदलपुर का रेलवे स्टेशन भी शामिल हैं। साथ ही ट्रेन सेवाओं को भी बढ़ाया गया है। इसके अलावा कई ट्रेनों के रेक को एलएचबी रेक में परिवर्तित किया गया है। इसके अलावा प्लेटफार्म की ऊंचाई बढ़ाई गई है और यार्ड पर भी सुविधाएं बढ़ाई गई है।

जीएम और डीआरएम ने किया निरीक्षण

ईस्ट कोस्ट रेलवे के जनरल मैनेजर मनोज शर्मा ने बताया कि जगदलपुर रेलवे स्टेशन के दो मंजिला नए भवन निर्माण के लिए मार्च महीने में ही टेंडर हो जाएगा और अप्रैल महीने से इसके निर्माण कार्य शुरू कर दिए जाएंगे। उन्होंने कहा कि बस्तर के  के.के रेल मार्ग में डबलिंग का कार्य भी किया जा रहा है। आने वाले कुछ महीनों में जगदलपुर से किरंदुल के आखिरी छोर तक डबलिंग का कार्य पूरा कर लिया जाएगा। जिसके बाद जगदलपुर तक चलने वाली सभी पैसेंजर ट्रेनों को किरन्दुल तक बढ़ाने पर विचार किया जाएगा, इधर जगदलपुर के बाद रेलवे के जनरल मैनेजर मनोज शर्मा और डीआरएम अनूप सतपथी ने किरन्दुल में मौजूद एनएमडीसी आयरन ओर लोडिंग प्लांट का भी निरीक्षण किया। साथ ही रेलवे ट्रेक के दोहरीकरण कार्यों का निरीक्षण कर इसे जल्द पूरा करने के भी निर्देश दिए, इसके अलावा किरन्दुल में एनएमडीसी के उच्च अधिकारियों के साथ बातचीत कर आयरन ओर की ढुलाई में सुधार के लिए भी चर्चा की।

इसके अलावा एनएमडीसी आयरन ओर लोडिंग बढ़ाने से संबंधित अन्य मुद्दों पर चर्चा करने के लिए जीएम ने  NMDC के उच्च अधिकारियों के साथ बैठक की, इसमें उन्होंने कहा कि इससे ना केवल दोनों पक्षों का ट्रैफिक बढ़ेगा बल्कि ज्यादा से ज्यादा राजस्व भी प्राप्त होगा।

बस्तर वासियों की मांग पर रेलवे प्रशासन गंभीर

रेलवे के जीएम ने किरंदुल में रैपिड वैगन डिस्चार्ज साइलो सिस्टम का निरीक्षण किया जो वैगन लोडिंग समय को कम करने में फायदेमंद होगा, उन्होंने कहा कि बस्तर वासियों की मांग पर रेलवे प्रशासन गंभीर है और एक के बाद एक इस रुट पर विकास कार्य किए जा रहे हैं।

ये भी पढ़े: सीएम बघेल आज 7 करोड़ रुपये करेंगे ऑनलाइन ट्रांसफर, जानिए किसे मिलेगी ये राशि?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

अन्य खबरें