Advertisement

अक्षत और भभूत वाली पार्टी बनकर रह गई भाजपा- धीरेंद्र, भाकपा माले

CPI(ML)

CPI(ML)

Share
Advertisement

CPI(ML): बिहार के गोपालगंज जिले के भोरे प्रखंड स्थित पार्टी कार्यालय पर भाकपा माले के नेता ने पत्रकारों से बात की। भाकपा माले के खेत ग्रामीण मजदूर सभा के राष्ट्रीय महासचिव धीरेंद्र झा उपस्थित कार्यकर्ता और नेताओं के साथ घंटो बैठक की. बैठक के दौरान माले नेता ने अपनी पांच सूत्रीय मांग को लेकर केंद्र की मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा. वहीं शराबबंदी को लेकर बिहार सरकार को भी कटघरे में खड़ा कर दिया. उन्होंने कहा भाजपा अक्षत और भभूत वाली पार्टी बनकर रह गई है।

Advertisement

CPI(ML): मनरेगा मजदूरों के साथ हो रही ठगी

प्रेस को संबोधित करते हुए भाकपा माले के राष्ट्रीय महासचिव ने कहा कि जिस तरीके से सरकार का जातिगत आंकड़ा सामने आया है वो यह बतलाता है कि बिहार के 63 प्रतिशत लोग गरीबी रेखा के नीचे हैं. बिहार में वर्ष 2017 से प्रधानमंत्री आवास योजना का आवंटन भी बंद है. मनरेगा मजदूरों के साथ ठगी की जा रही है.

गरीबों को दी जाए 200 यूनिट फ्री बिजली

उन्होंने कहा सरकार ने जमींदारी कानून उन्मूलन के तहत गरीबों को जमीन आवंटन करने का वादा किया था. उसपर भी सरकार पूरी तरफ फेल साबित हुई है. वही अपनी पांच सूत्रीय मांगों में गरीब तबके के लोगों को 200 यूनिट फ्री बिजली देने की मांग भी की गई. सरकार अगर हमारी बात नहीं मानती है तो 18 जनवरी से जिले के हर प्रखंड कार्यालय पर प्रदर्शन किया जाएगा.

केंद्र सरकार पर साधा निशाना

वही प्रेस कांफ्रेंस के दौरान खेम ग्रास के राष्ट्रीय महासचिव धीरेंद्र झा ने केंद्र की मोदी सरकार पर भी जमकर निशाना साधा। उन्होंने अयोध्या प्रकरण को लेकर कहा कि सरकार का काम जनता को देखना होता है. अक्षत और भभूत लेकर प्रचार करना नहीं. केंद्र की मोदी सरकार पूरी तरह से अक्षत और भभूत वाली सरकार बन गई है.

पांच सीटों पर चुनाव लड़ेगी भाकपा माले

वहीं लोकसभा चुनाव की तैयारी को लेकर उन्होंने कहा की बिहार में हम पांच सीटों पर चुनाव लड़ने जा रहे है. सीट मंथन को लेकर राष्ट्रीय स्तर पर तीन बार वार्ता भी की जा चुकी है.जिसमें गोपालगंज, सिवान, आरा, काराकाट, किशनगंज में हमारी तैयारी जोरों पर हैं. वही बिहार में जारी शराबबंदी को लेकर जब सवाल किया गया तो उन्होंने कहा की शराबबंदी का फैसला सही था लेकिन इसे धरातल पर सही ढंग से लागू नहीं किया गया है. आज माफिया नहीं पकड़े जा रहे. गरीबों को उठाकर जेल में ठूंसा जा रहा है. सरकार को इसपर समीक्षा करनी चाहिए। बैठक के दौरान.प्रखंड सचिव सुभाष पटेल. मुखिया कमलेश प्रसाद सिंह. भोरे मुखिया पति अर्जुन सिंह.सहित सैकड़ो कार्यकर्ता मौजूद रहे.

रिपोर्टः प्रदीप शर्मा, संवाददाता, गोपालगंज, बिहार

ये भी पढ़ें: आस्थाः पांव-पांव चलकर नापेंगे 900 किलोमीटर की दूरी

Follow us on: https://twitter.com/HindiKhabar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

अन्य खबरें