Advertisement

Caste Census Bihar: हर पार्टी का अपना नजरिया, सभी ढूंढेंगे जीत का जरिया

caste census bihar

बिहार में जातिगत जनगणना के सार्वजनिक करने पर पार्टियों की राय.

Share
Advertisement

Caste Census Bihar: बिहार में जातिगत जनगणना के आंकड़े सार्वजनिक कर दिए गए हैं। ऐसे में हर पार्टी इसे अपने नजरिए से देख रही है। जातिगत राजनीति की भूमि बिहार में यह जनगणना राजनीति की दृष्टि से अहम साबित होगी। देखना दिलचस्प होगा कि कौन सी राजनीतिक पार्टी इस जनगणना से लोकसभा और विधानसभा में जीत का आंकड़ा बैठा पाती है। फिलहाल जानिए इस जनगणना के बारे में क्या कहतें हैं राजनेता।

Advertisement

Caste census bihar: बीजेपी की साजिशों के वाबजूद पूरा किया सर्वे- लालू प्रसाद

राजद के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव ने कहा कि गाँधी जयंती पर इस ऐतिहासिक क्षण के हम सब साक्षी बने हैं। बीजेपी की अनेकों साजिशों, कानूनी अड़चनों और तमाम षड्यंत्र के बावजूद आज बिहार सरकार ने जाति आधारित सर्वे रिलीज किया। ये आँकड़ें वंचितों, उपेक्षितों और गरीबों के समुचित विकास और तरक़्क़ी के लिए समग्र योजना बनाने में अहम होंगे। वहीं हाशिए के समूहों को आबादी के अनुपात में प्रतिनिधित्व देने में देश के लिए नज़ीर पेश करेंगे।

‘2024 में सरकार बनी तो पूरे देश में कराएंगे जातिगत जनगणना’

लालू प्रसाद ने आगे कहा, ‘सरकार को अब सुनिश्चित करना चाहिए कि जिसकी जितनी संख्या, उसकी उतनी हिस्सेदारी हो। हमारा शुरू से मनाना रहा है कि राज्य के संसाधनों पर न्यायसंगत अधिकार सभी वर्गों का हो। केंद्र में 2024 में जब हमारी सरकार बनेगी तब पूरे देश में जातिगत जनगणना करवाएंगे। दलित, मुस्लिम, पिछड़ा और अति पिछड़ा विरोधी भाजपा को सत्ता से बेदखल करेंगे।’

बीजेपी ने किया जातिगत जनगणना का समर्थन- सम्राट चौधरी

बिहार बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष सम्राट चौधरी ने कहा, ‘जातीय जनगणना का अध्ययन करेंगे। बीजेपी ने भी जातीय जनगणना का समर्थन किया है। जातीय जनगणना में किसका उत्थान हुआ और किसका नहीं, यह भी जारी करना चाहिए था।’

गणना के मैकेनिज्म का भी करेंगे अध्ययन- अरविंद सिंह

बीजेपी प्रवक्ता अरविंद सिंह ने कहा, पार्टी इस आंकड़े का अध्ययन करेगी। वहीं इस बात का भी अध्ययन करेगी कि किस मैकेनिज्म से गणना हुई है।

Caste census bihar: एक नजर, जातिगत जनगणना पर

विकास आयुक्त विवेक कुमार सिंह ने जातिगत जनगणना की रिपोर्ट जारी की है। फिलहाल विवेक सिंह मुख्य सचिव के प्रभार में हैं। इस रिपोर्ट पर डालें एक नजर…

गणना के आधार पर जहां बिहार की जनसंख्या में हिन्दुओं का प्रतिशत 81.9986% है तो वहीं मुस्लिमों का प्रतिशत 17.7088% है। राज्य में ईसाई 0.0576%, सिख 0.0576%, बौद्ध 0.0851%, जैन 0.0096%, अन्य धर्म 0.1274%, कोई धर्म नहीं 0.0016% हैं।

वर्ग आधारित आंकड़ें

वर्ग      जनसंख्या    प्रतिशत
पिछड़ा वर्ग(3,54,63,936)  27.1286%
अत्यंत पिछड़ा वर्ग (4,70,80,514) 36.0148%
अनुसूचित जाति  (2,56,89,820)  19.6518%
अनुसूचित जनजाति (21,99,361)  1.6824%
अनारक्षित (2,02,91,679)   15.5224%
  • कुल 13,07,25,310
  • बिहार की कुल जनसंख्या 125353288
  • पुरुष की संख्या 6413199
  • महिला 61138460
  • अन्य अंतर्गत 82836
  • बिहार राज्य में लिंगनुपात दर 1000 पुरूषों पर 953 महिला

Caste census bihar: अत्यंत पिछड़ा वर्ग और पिछड़ा वर्ग पर रहेगी नजर!

जनगणना के बाद यह स्पष्ट है कि हर पार्टी अत्यंत पिछड़ा वर्ग और पिछड़ा वर्ग को साधने की भरपूर कोशिश करेगा। इसी के साथ राजनीतिक पार्टियों की जीत में अनुसूचित जाति और अनारक्षित वर्ग के वोट भी अहम भूमिका निभाएंगे। ऐसे में देखना रोचक होगा कि चुनाव में पार्टियों की रणनीति क्या रहेगी।

रिपोर्टः सुजीत कुमार, ब्यूरोचीफ, बिहार

ये भी पढ़ें:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *