गोरखपुर मंदिर में हमले की घटना को लेकर CM योगी सख्त, जानें क्या दिए निर्देश

सीएम योगी

यूपी के गोरखपुर स्थित प्रसिद्ध गोरखनाथ मंदिर (Gorakhnath Temple Attack) में अहमद मुर्तजा अब्बासी ने अल्ला-हू-अकबर का नारा लगाकर घुसने की नाकाम कोशिश के दौरान पीएसी के दो जवानों पर धारदार हथियार से हमला कर दिया था। इस घटना को लेकर सीएम योगी आदित्यनाथ संज्ञान लेते हुए गृह विभाग और पुलिस अधिकारियों को कड़े निर्देश दिए है। अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी ने कहा की पुलिस के जवानों पर गंभीर हमला साजिश का हिस्सा जिसे आतंकी घटना कहा जा सकता है।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने गृह विभाग और पुलिस अधिकारियों को दिए कड़े निर्देश

इस पूरी घटना की विवेचना ATS को दी गयी है। सीएम योगी आदित्यनाथ ने निर्देश दिए हैं की STF और ATS संयुक्त रूप से काम करेंगे। ADG (क़ानून-व्यवस्था) प्रशांत कुमार ने इस मामले पर कहा गोरखनाथ थाने के गेट नंबर-1 के पास कल शाम 7 बजे ड्यूटी पर तैनात आरक्षियों पर एक व्यक्ति ने हमला किया और धार्मिक नारे भी लगाए। हमले में 2 सिपाही घायल हुए। पकड़े गए व्यक्ति की पहचान गोरखपुर के रहने वाले अहमद मुर्तुजा के रूप में हुई।

STF और ATS करेंगे संयुक्त रूप से काम

उत्तर प्रदेश के ADG (क़ानून-व्यवस्था) प्रशांत कुमार बोेले उसके पास से जो चीजें बरामद हुई हैं उसका पूरा परीक्षण कराया जा रहा है। FIR दर्ज़ की गई है। किसी भी संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता, इसमें टेरर एंगल भी हो सकता है। प्रकरण को ATS को ट्रांसफर किया जाएगा, गहराई से विवेचना की जाएगी।

Read Also:- गोरखनाथ मंदिर में हमला: मुर्तजा अब्बासी के खिलाफ IPC-307 और अन्य धाराओं में मामला दर्ज़, यूपी ATS की टीम मामले की जांच में जुटी

इस हमलावर ने अपना पूरा नाम अहमद मुर्तजा अब्बासी बताया है, जो कि गोरखपुर के ही सिविल लाइंस में रहने वाले मनीर अहमद का बेटा है। उसका घर अब्बासी नर्सिंग होम के बगल में है। मुर्तजा ने आईआईटी बॉम्बे से केमिकल इंजीनियरिंग की पढ़ाई की है। बता दें कि रविवार को देर शाम गोरखनाथ मंदिर मुख्य द्वार पर सुरक्षाकर्मी तैनात थे। अब्बासी हाथ में बैग लिए गोरखनाथ मंदिर के मुख्य गेट पर पहुंचा और कुर्सी पर बैठे पीएसी जवानों से धक्कामुक्की (Gorakhnath Temple Attack) शुरू कर दी। 

Share This News

Leave a Reply

Your email address will not be published.