योगी आदित्यनाथ नहीं बल्कि मध्यप्रदेश के बाबूलाल हैं असली बुल्डोजर बाबा, जानें क्यों पड़ा नाम

असली बुल्डोजर बाबा

उत्तर प्रदेश में अपराधियों के खिलाफ बुल्डोजर का खूब इस्तेमाल हो रहा है। इसके चलते योगी आदित्यनाथ को बुल्डोजर बाबा के नाम से जाना जाने लगा है। लेकिन योगी आदित्यनाथ असली बुल्डोजर बाबा नहीं हैं। जी हां सही सुना आपने। बीते विधानसभा चुनाव में भी बुल्डोजर बाबा शब्द का खूब इस्तेमाल हुआ था। हालांकि वास्तविक बुल्डोजर बाबा कोई और हैं।

दरअसल यह तमगा सीएम योगी से पहले मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल गौर के साथ जुड़ चुका है। बाबूलाल गौर मंत्री रहते हुए बुल्डोजर का खूब इस्तेमाल किया था। इसके बाद उनके नाम के साथ बुल्डोजर शब्द जुड़ गया था।

न्यूज 18 के मुताबिक, बाबूलाल गौर द्वारा बड़ी संख्या में चलाए गए एंटी एंक्रोचमेंट अभियान के चलते उनका नाम बुल्डोजर बाबा पड़ गया था। जब अतिक्रमण हटवाने के दौरान किसी तरह का विरोध होता तो बाबूलाल गौर वहां बुल्डोजर मंगवा लेते और उसका इंजन चालू करा देते थे। इससे अतिक्रमण खुद ही हट जाता था।

बता दें कि बाबूलाल गौर मार्च 1990 से दिसम्बर 1992 तक मध्य प्रदेश में मंत्री थे। भारत टॉकीज और भोपाल टॉकीज पुराने शहर के सबसे व्यस्ततम चौराहे थे। वहां से अतिक्रमण हटाना बड़ा मुश्किल था।

जब किसी तरह बात नहीं बनी तो मंत्री गौर ने खास तरकीब अपनाई। उन्होंने बुल्डोजर बुलवाया और अतिक्रमण स्थल पर खड़ा कर उसका इंजन चालू करा दिया। इसके बाद वहां से अतिक्रमण अपने आप हटने लगा था। ऐसे ही कई कार्य बाबूलाल से जुड़े हुए हैं।

Share This News

Leave a Reply

Your email address will not be published.