Punjab News: चन्नी सरकार का बड़ा फैसला, चुनाव के ऐलान से पहले DGP को हटाया

पंजाब में चुनाव के ऐलान से पहले चन्नी सरकार ने बड़ा फैसला लिया है. सरकार ने पंजाब के DGP सिद्धार्थ चटोपाध्याय को हटाकर वीके भंवरा को DGP बनाया है. बीते दिनों हुई पीएम मोदी की सुरक्षा चूक मामले में सिद्धार्थ चटोपाध्याय पर सवाल उठ रहे थे. जिसके बाद चन्नी सरकार ने यह फैसला लिया है.

1987 बैच के IPS अधिकारी है वीके भंवरा

प्रदेश में आचार संहिता लगने से पहले सरकार ने UPSC पैनल को IPS अधिकारियों के नाम भेजे थे. जिसमें वीके भंवरा के नाम पर मुहर लगी. वीके भंवरा 1987 बैच के IPS अधिकारी है. वे विजिलेंस चीफ के तौर पर भी काम कर चुके है.    

सरकार बदलने के साथ ही बदले गए थे DGP

आपको बता दे कि, पंजाब में सरकार बदलने के साथ ही कैप्टन अमरिंदर सिंह के करीबी दिनकर गुप्ता को पता चल गया था कि वें अब DGP  पद से हटाए जाएंगे और छुट्टी पर चले गए थे. इसके बाद पहले कार्यकारी DGP के पद पर IPS सहोता को अतिरिक्त चार्ज दिया गया था, लेकिन नवजोत सिंह सिद्धू के ऐतराज के बाद सिद्धू के करीबी आईपीएस सिद्धार्थ चटोपाध्याय को DGP बनाया गया था.

UPSC पैनल के पास 10 अधिकारियों के भेजे गए थे नाम

सरकार ने UPSC पैनल के पास 10 IPS अधिकारियों के नाम को भेजा था. जिसमें सिद्धार्थ चटोपाध्याय का नाम शामिल नहीं था. CODE OF CONDUCT लगने से चंद घंटे पहले ही सरकार ने DGP को बदल दिया. वीके भंवरा को पंजाब का नया DGP बना दिया. सरकार ने यह फैसला आनन-फानन लिय़ा है.

Share This News

Leave a Reply

Your email address will not be published.