Madhya Pradesh: दीयों की रोशनी से जगमगा उठा उज्जैन, जलाए गए 21 लाख से ज्यादा दीये, गिनीज बुक में दर्ज हुआ रिकॉर्ड

Mahashivratri

Chief Minister Shivraj Singh Chouhan

Ujjain Mahashivratri 2022: उज्जैन के महाकालेश्वर मंदिर में महा शिवरात्रि के पावन पर्व पर ‘शिव ज्योति अर्पणम’ उत्सव का आयोजन किया गया। जिसमें मां क्षिप्रा के तट पर, देवस्थानों, मंदिरों और शहर में घर-घर दीप प्रज्वलित किए गए। मालूम हो कि प्रदेश में महाशिवरात्रि के अवसर पर कल एक साथ 11 लाख से ज्यादा दीए जलाने के लिए उज्जैन गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में शामिल हो गया।

जानकारी के अनुसार शिप्रा नदी के तट पर 11 लाख 71 हजार 78 दीप जलाए गए। जिसमें से पहला दीपक प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रज्ज्वलित किया। इतना ही नहीं इस खास मौके पर रंगारंग आतिशबाजी भी की गई। वहीं गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स की टीम ने इसे दीपों का सबसे बड़ा प्रदर्शन बताते हुए उज्जैन का नाम दर्ज किया। इससे पहले अयोध्या में 9 लाख 41 हजार 551 दीप जलाकर रिकॉर्ड बनाया गया था।

इसके साथ ही नगर निगम आयुक्त अंशुल गुप्ता ने विश्व का सबसे बड़ा जीरो वेस्ट कार्यक्रम होने का दावा करते हुए कहा कि इस्तेमाल किए गए सभी दीयों को रिसाइकिल कर एक बड़ा दीया बनाया जाएगा। जबकि तेल की बोतलों से गमले, कुर्सियां बनाई जाएंगी। इसके अलावा महाशिवरात्रि (Mahashivratri) के अवसर पर लाखों श्रद्धालु भगवान महाकाल के दर्शन के लिए भी पहुंचे और 12 हजार से अधिक लोगों ने दीप जलाए।

इस दौरान सीएम शिवराज ने कहा महाशिवरात्रि पर भगवान महाकाल की नगरी दीपों की ज्योति से जगमगा रही है। उज्जैन की जनता ने अद्भुत दृश्य प्रस्तुत किया है। अनोखे तरीके से शिवभक्ति की है। मैं महाकाल महाराज से प्रार्थना करता हूं कि उज्जैन, मध्यप्रदेश, देश व सम्पूर्ण विश्व पर कृपा की वर्षा करें। सीएम शिवराज ने बताया कि आज उज्जैन में अद्भुत दृश्य उपस्थित है। पूरी अवंतिका भगवान शिव की भक्ति में शिवमय ज्योति से जगमगा रही है।

Share This News

Leave a Reply

Your email address will not be published.