झारखंड में सेमी लॉकडाउन: स्विमिंग पूल, जिम, चिड़ियाघर, स्कूल, कॉलेज, कोचिंग रहेंगे बंद

झारखंड

सोमवार को झारखंड के मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन की अध्यक्षता में कोरोना के बढ़ते संक्रमण पर फैसला लिया गया। बैठक राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के द्वारा आयोजित की गई थी।

स्विमिंग पूल, जिम, चिड़ियाघर, स्कूल, कॉलेज, कोचिंग रहेंगे बंद

बैठक के बाद राज्य में सभी पार्क, स्विमिंग पूल, जिम, चिड़ियाघर, पर्यटन स्थल, खेल स्टेडियम खोलने पर 15 जनवरी 2022 तक रोक लगा दी गई है। स्कूल, कॉलेज, कोचिंग इंस्टीट्यूट भी 15 जनवरी 2022 तक बंद रहेंगे लेकिन इन संस्थानों में 50% क्षमता के साथ प्रशासनिक कार्य होंगे।  इसके साथ ही सिनेमाहॉल, रेस्टोरेंट, बार एवं शॉपिंग मॉल 50% क्षमता के साथ खुलेंगे। वहीं रेस्टोरेंट, बार एवं दवा दुकानें अपने नॉर्मल समय पर बंद होंगे। बाकी सभी दुकानें रात्रि 8 बजे तक ही खुली रहेंगी।

बैठक में आउटडोर आयोजन में अधिकतम एक सौ लोग शामिल किए जाने का निर्णय लिया गया है। सरकारी एवं निजी संस्थानों के कार्यालय 50% क्षमता के साथ खुले रहेंगे। बायोमेट्रिक अटेंडेंस पर प्रतिबंध रहेगा।

अनिवार्य स्वास्थ्य सेवाओं को दुरुस्त करने के निर्देश

झारखंड में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए सभी अनिवार्य स्वास्थ्य सेवाओं को प्राथमिकता के साथ दुरुस्त करने पर हेमन्त सोरेन ने जोर दिया। इसके साथ ही राज्य के सभी जिलों को अलर्ट रखने के आदेश भी दिए गए। कोरोना जांच की संख्या में वृद्धि को लेकर भी मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने अधिकारियों को निर्देंश दिया।

मुख्यमंत्री सोरेन ने अधिकारियों से बैठक में कहा, ‘सभी कोविड केयर अस्पतालों में ऑक्सीजनयुक्त बेड, आईसीयू बेड, नॉर्मल बेड, अनिवार्य दवाएं इत्यादि व्यवस्थाओं को चुस्त-दुरुस्त रखें’। मुख्यमंत्री ने निर्देश दिया कि कोरोना टेस्ट सैंपल का बैकलॉग न बढ़े यह सुनिश्चित करें। विभाग सैंपल कलेक्शन के लिए एसओपी जारी करे।

बैठक में आपदा प्रबंधन विभाग के मंत्री श्री बन्ना गुप्ता ने भी राज्य में कोरोना संक्रमण के प्रसार के रोकथाम एवं व्यवस्थाओं के संबंध में कई महत्वपूर्ण सुझाव रखे।

Read Also: मुंबई में फिर बढ़ रहा है कोरोना का कहर, 31 जनवरी तक इन कक्षाओं के लिए स्कूल बंद

Share This News

Leave a Reply

Your email address will not be published.