बाबा साहब ने अपनी जिंदगी में शिक्षा को दिया सबसे ज्यादा महत्व: अरविंद केजरीवाल

दिल्ली सरकार

नई दिल्ली/पंजाब: आम आदमी पार्टी की पंजाब में सरकार बनने के बाद हर सरकारी दफ्तर में सीएम या किसी नेता की तस्वीर नहीं लगाई जाएगी, बल्कि बाबा साहब अंबेडकर और शहीद-ए-आजम भगत सिंह की तश्वीर लगाई जाएगी, ताकि हम लोग और आने वाली पीढ़ी उनसे प्रेरणा ले सकें। हम जितनी बार उनकी तस्वीर देखेंगे, उनका संघर्ष, उनकी कुर्बानी और उनके विचार याद आएंगे। दिल्ली सरकार की तरह ही पंजाब सरकार भी बाबा साहब और भगत सिंह के विचारों पर चलेगी। पंजाब दौरे पर आए ‘आप’ संयोजक एवं दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने अमृतसर में एक प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए आज यह घोषणा की।

बाबा साहब और भगत सिंह की तस्वीर देखकर हम लोग और आने वाली पीढ़ी ले सकेंगी उनसे प्रेरणा

अरविंद केजरीवाल ने आगे कहा कि बाबा साहब और भगत सिंह के रास्ते अलग-अलग थे, लेकिन दोनों की मंजिल एक थी। दोनों चाहते थे कि देश आजाद होने के बाद सबको अच्छी शिक्षा व स्वास्थ्य सेवाएं मिले और देश में खूब तरक्की हो। जाति-धर्म के आधार पर भेदभाव न हो और सबको बराबरी का हक मिले। दोनों ही यह चाहते थे कि कोई अपनी जिंदगी में सफल होता है, तो यह इस बात पर निर्भर नहीं होना चाहिए कि वह किस जाति में पैदा हुआ है।

दिल्ली सरकार की तरह ही पंजाब सरकार भी बाबा साहब और भगत सिंह के विचारों पर चलेगी

Delhi के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज पंजाब के अमृतसर में एक महत्वपूर्ण प्रेस वार्ता को संबोधित किया। इस दौरान पंजाब में आम आदमी पार्टी के सीएम चेहरा एवं सांसद भगवंत मान भी मौजूद रहे। ‘केजरीवाल ने कहा कि हमारे देश को आजाद हुए 75 साल हो गए। हमें आजादी बड़ी मुश्किल से मिली थी। बहुत लोगों ने अपनी जान की कुर्बान की थी। बहुत लोगों ने लंबा संघर्ष किया था, उसके बाद आजादी मिली थी। लेकिन धीरे-धीरे हम उन लोगों की कुर्बानियों, उनके संघर्षों और विचारों को भूलते जा रहे हैं। पूरे के पूरे सिस्टम के उपर गंदी राजनीति हावी होती जा रही है।

Share This News

Leave a Reply

Your email address will not be published.