केजरीवाल के घर पर हमला, CCTV कैमरा-सिक्योरिटी बैरियर तोड़े, मनीष सिसोदिया बोले- हत्या करवाना चाहती है बीजेपी

केजरीवाल के घर पर हमला

दिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल के घर पर हमला हुआ है। खबर है कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के घर पर यह हमला कुछ असमाजिक तत्वों द्वारा की गई। डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने ट्वीट कर बताया कि कुछ असामाजिक तत्वों ने सीएम केजरीवाल के घर पर हमला किया है।

उन्होंने कहा कि सीएम केजरीवाल के घर पर हमला कर CCTV कैमरा और सिक्योरिटी बैरियर तोड़ दिए। इसके अलावा मेन गेट पर लगे बैरियर भी तोड़ दिए गए।

मनीष सिसोदिया ने आरोप लगाया कि ”बीजेपी के गुंडों ने अरविंद केजरीवाल के घर पर तोड़फोड़ की।” इतना ही नहीं उन्होंने कहा, ”बीजेपी की पुलिस उन्हें रोकने की जगह दरवाजे तक लेकर आई।”

70 कार्यकर्ता हिरासत में

वहीं दूसरी तरफ दिल्ली नॉर्थ डीसीपी ने बताया कि बीजेपी युवा मोर्चा का विरोध प्रदर्शन चल रहा था, जिसमें प्रदर्शनकारियों ने बवाल मचाया। उन्होंने कहा कि प्रदर्शनकारियों ने सीसीटीवी पर भी हमला किया, सीएम आवास के बाहर पेंट भी फेंका गया। मामले में 70 लोगों को हिरासत में लिया गया है। अभी वहां पूरी तरह से शांति है।

पुलिस के मुताबिक, बीजेपी युवा मोर्चा के करीब 150-200  कार्यकर्ताओं ने सुबह 11.30 बजे सीएम आवास के बाहर विरोध प्रदर्शन शुरू किया था। बताया जा रहा है कि यह प्रदर्शन केजरीवाल के द कश्मीर फाइल्स फिल्म को लेकर विधानसभा में दिए बयान के खिलाफ रखा गया था। करीब 1 बजे कुछ प्रदर्शनकारी बैरिकेड तोड़कर सीएम आवास के बाहर पहुंच गए। उन्होंने दरवाजे पर पेंट फेंका और यहां लगे सीसीटीवी कैमरों को भी तोड़ दिया। इन पर कार्रवाई की जा रही है।

केजरीवाल की हत्या करवाना चाहती है बीजेपी- मनीष सिसोदिया

इस बीच आप नेता और दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने बीजेपी पर बड़ा आरोप लगाते हुए कहा कि बीजेपी अरविंद केजरीवाल की हत्या करवाना चाहती हैं।

आप पार्टी ने लगाया आरोप

घटना के बाद आम आदमी पार्टी ने आरोप लगाया है कि बीजेपी नेताओं और कार्यकर्ताओं ने सीएम अरविंद केजरीवाल के घर पर हमला और तोड़फोड़ की। दरअसल, बीजेपी कार्यकर्ता अरविंद केजरीवाल के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे थे। बीजेपी का कहना है कि अरविंद केजरीवाल ने कश्मीरी पंडितों के नरसंहार का मजाक उड़ाया है।

Share This News

Leave a Reply

Your email address will not be published.