भाजपा अपना महिला विरोधी चेहरा दिखा रही है, आम आदमी पार्टी करती है इसकी घोर निंदा – सौरभ भारद्वाज

नई दिल्ली: आम आदमी पार्टी ने वरिष्ठ नेता एवं विधायक आतिशी को आयकर विभाग द्वारा नोटिस दिए जाने पर भाजपा और उसकी केंद्र सरकार को आड़े हाथ लिया। ‘आप’ के मुख्य प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज ने कहा कि भाजपा को राजनीति में पढ़ी-लिखी युवती बर्दाश्त नहीं है और इसीलिए भाजपा की केंद्र सरकार ने ‘आप’ विधायक आतिशी को एफडी और म्यूच्यूअल फण्ड में जमा मात्र 59 लाख रुपए के लिए आईटी नोटिस भेजा है। उन्होंने कहा कि सारे मापदंड गिराते हुए भाजपा की केंद्र सरकार ने बदले की भावना से 2012 से पहले की आमदनी के लिए यह आयकर नोटिस भेजा है। भाजपा अपना महिला विरोधी चेहरा दिखा रही है और आम आदमी पार्टी इसकी घोर निंदा करती है।

भाजपा को राजनीति में पढ़ी-लिखी महिला बर्दाश्त नहीं, केंद्र ने ‘आप’ विधायक आतिशी को परेशान करने के लिए भेजा आयकर नोटिस- सौरभ भारद्वाज

आम आदमी पार्टी के मुख्य प्रवक्ता एवं विधायक सौरभ भारद्वाज और वरिष्ठ नेता व विधायक आतिशी ने आज पार्टी मुख्यालय में एक महत्वपूर्ण प्रेस वार्ता को संबोधित किया। इस दौरान सौरभ भारद्वाज ने कहा कि एक बड़ी हास्यास्पद घटना हुई है कि हमारी पार्टी की जानी-मानी नेता आतिशी को आयकर विभाग ने नोटिस दिया है। विभाग ने मात्र इस बात के लिए नोटिस दिया है कि इन्होंने 2020 में जो विधानसभा चुनाव लड़ा, उस दौरान दिए एफिडेविट (शपथ पत्र) में इन्होंने खुद घोषणा की है कि इनके पास चल संपत्ति के तौर पर बैंक में फिक्स डिपॉजिट और म्यूचुअल फंड में करीब 59 लाख 79 हजार रुपए इनके बैंक खाते में है। मैं हैरान इसलिए हूं, क्योंकि कोई साधारण से साधारण बुद्धि रखने वाला आदमी भी अगर आतिशी के बारे में थोड़ी सी जानकारी उसी एफिडेविट में पढ़ लेता, तो इनके बारे में और कई जानकारियां दी गई हैं, जो मिल जातीं।

 भाजपा ने गिराए सारे मापदंड, आयकर विभाग ने एफडी और म्यूच्यूअल फण्ड में जमा मात्र 59 लाख रुपए के लिए नोटिस दिया- सौरभ भारद्वाज

सौरभ भारद्वाज ने कहा कि विधायक आतिशी दिल्ली के स्प्रिंग डेल स्कूल में पढ़ी हैं। इनके माता-पिता दिल्ली यूनिवर्सिटी में प्रोफेसर हैं। इसके बाद इन्होंने दिल्ली यूनिवर्सिटी के अंदर ही सेंट स्टीफंस काॅलेज से हिस्ट्री ऑनर्स किया और पूरे दिल्ली के अंदर टॉपर रहीं। उसके बाद प्रतिष्ठि शेवनिंग स्कॉलरशिप पर इन्होंने ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी में एमए किया और फिर दुनिया की सबसे प्रतिष्ठित रोड्स स्कॉलरशिप के अंतर्गत इन्होंने ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी से एमएससी किया। इतनी बड़ी-बड़ी योग्यता के बाद कोई 8 से 10 साल तक अगर नौकरी करें, कंसल्टिंग का काम करें, रिसर्च ऑर्गेनाइजेशंस में स्कॉलर के तौर पर थिंक टैंक के साथ काम करें, तो मुझे लगता कि कोई बेवकूफ से बेवकूफ आदमी भी यह समझ सकता है कि आप इतना धन अर्जित कर सकते हैं कि उसके बाद अगर वह पैसा 7-8 साल बैंक में और म्युचुअल फंड्स में रखा रहे, तो 50-60 लाख रुपए आराम से बनता है। उन्होंने कहा कि सबसे मजेदार बात यह है कि आतिशी के एफडी और म्युचुअल फंड्स में जितना पैसा है, यह सारा पैसा 2012 से पहले जमा कराया गया है।

भाजपा की केंद्र सरकार ने बदले की भावना से 2012 से पहले की आमदनी के लिए आतिशी को आयकर नोटिस भेजा है- सौरभ भारद्वाज

सौरभ भारद्वाज ने कहा कि अक्टूबर-2012 में आम आदमी पार्टी बनी और दिसंबर-2013 में पहली बार आम आदमी पार्टी की सरकार बनी। 2015 में आतिशी को दिल्ली सरकार के साथ काम करने का मौका मिला और मात्र एक रुपए प्रतिमाह वेतन पर काम करती थीं। मुझे बहुत ही दुख के साथ प्रेस कांफ्रेंस करते हुए यह कहना पड़ रहा है कि आयकर विभाग इतना खाली है कि भाजपा की केंद्र सरकार जो इस वादे के साथ सत्ता में आई थी कि स्विस बैंक में जो लाखों-करोड़ों रुपए भारत का काला धन जमा है, उसको लेकर आएंगे। आज उनके हालात इतने बिगड़ गए हैं कि 60-60 लाख रुपए की घोषणा (डिक्लेरेशन) के ऊपर यह इनकम टैक्स की नोटिस भेज रहे हैं। जो महिलाएं राजनीति में दिखती भी हैं, तो उनमें से बहुत सारी ऐसी हैं, जिनको विरासत में राजनीतिक संरक्षण मिला है, जिस वजह से वो स्थापित हो पाईं। आम आदमी पार्टी इसकी घोर निंदा करती है। यह बहुत ही शर्मनाक है कि इस तरह का काम करने के लिए केंद्र सरकार ने आयकर विभाग को छोड़ा है। रिपोर्ट- कंचन अरोड़ा

Share This News

Leave a Reply

Your email address will not be published.