छत्तीसगढ़ की राज्यपाल अनुसुईया उइके ने PM मोदी को बांधी पहली राखी, राज्य में कानून व्यवस्था की दी जानकारी

New Delhi: देशभर में 11 अगस्त को रक्षा बंधन का पवित्र त्योहार मनाया जाएगा। भाई-बहन के इस पवित्र त्योहार के मौके पर छत्तीसगढ़ की राज्यपाल अनुसुईया उइके ने प्रधानमंत्री मोदी के हाथों पर सबसे पहली राखी बांध दी है। वहीं राखी बांधने के साथ साथ राज्यपाल ने पीएम मोदी को कई तरह के उपहार भी भेंट किए है। बता दें राज्यपाल अनुसुईया उइके ने पीएम को छत्तीसगढ़ के 22 जनजातियों के प्रमाण पत्र के बारे में भी जानकारी दी।

यह भी पढ़ें: 11 अगस्त तक इन राज्यों में भारी बारिश को लेकर IMD ने जारी किया अलर्ट

दरअसल छत्तीसगढ़ की राज्यपाल दिल्ली में आयोजित एक राष्ट्रीय स्तर की बैठक में भाग लेने पहुंची थीं। इसी मौके पर उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात किया। हालांकि इस मुलाकात के दौरान उन्होंने पूरे छत्तीसगढ़ की बहनों की तरफ से रक्षा बंधन के पर्व से दो दिन पहले ही प्रधानमंत्री मोदी को राखी बांध दी।

कई उपहार भी किए भेंट

छत्तीसगढ़ की राज्यपाल अनुसुईया उइके ने राखी बांधन के बाद प्रधानमंत्री को गोबर और गोमूत्र से बने प्रोडक्ट भी भेंट में दिए। हालांकि इन उपहारों के अतिरिक्त उन्होंने पीएम को जनजातीय कलाकारों द्वारा बनाए गए पीएम मोदा का स्केच भी भेंट उन्हें भेंट किया। इस मुलाकात के दौरान राज्यपाल ने प्रधानमंत्री मोदी को छत्तीसगढ़ के कई विषयों के बारे में जानकारी भी साझा किया। इसी के साथ उन्होंने पीएम मोदी को राज्य के व्यापारियों और सीए को जीएसटी को लेकर हो रही दिक्कतों से भी रूबरू कराया। हालांकि प्रधानमंत्री मोदी ने उन्हें इसके समाधान का आश्वासन दिया है। उन्होंने प्रधानमंत्री को राज्य में कानून व्यवस्था की भी जानकारी दी।

यह भी पढ़ें: CWG 2022 में भारतीय पुरुष हॉकी टीम को रजत पदक से करना पड़ा संतोष, ऑस्ट्रेलिया ने 7-0 से हराया

Share This News

Leave a Reply

Your email address will not be published.