Advertisement

NDMC की मंजूरी को बाद राजपथ का नाम हुआ कर्तव्यपथ, केंद्रीय मंत्री मीनाक्षी लेखी ने बताया ऐतिहासिक फैसला

Share
Advertisement

सोमवार की शाम को प्रधानमंत्री ने बड़ा फैसला लेते हुए दिल्ली के राजपथ का नाम बदलके “कर्तव्य पथ” करने का फैसला किया। हालांकि उस दिन खाली घोषणा की गई था और कहा गया था कि 7 तारीख को NDMC  के फैसले के बाद ही इस पर मुहर लगाई जाएगी। तो आपको बता दें कि NDMC ने मंजूरी देते हुए राजपथ को “कर्तव्य पथ” नाम की मुहर लगा दी है। वहीं केंद्रीय मंत्री मीनाक्षी लेखी(Union Minister Meenakshi Lekhi) ने इसे ऐतिहासिक फैसला बताते हुए सभी देशवासियों को बधाई दी है। उन्होंने कहा, राजपथ का नाम बदलने का फैसला मातृभूमि की सेवा करने की हमारी प्रतिबद्धता की पुष्टि करता है।

Advertisement

NDMC ने राजपथ के नाम को बदलने की दी मंजूरी

राजपथ राष्ट्रपति भवन से लगा के इंडिया गेट के 3 किमी की लंबाई वाले रास्ते का नाम बदल के अब कर्तव्य पथ कर दिया गया है। इस फैसले पर मुहर लगाने के लिए आज दिल्ली की म्युनिसिपल कॉर्पोरेशन(NDMC) ने बैठक बुलाई थी जिसके बाद इसे मंजूरी मिल गई। अब इंडिया गेट पर नेताजी सुभाष चंद्र बोस की प्रतिमा से लेकर राष्ट्रपति भवन की पूरी सड़क और क्षेत्र को ‘कर्तव्यपथ’ के नाम से जाना जाएगा।

102 सालों में तीसरी बार बदला गया राजपथ का नाम

ये पहली बार नहीं जब राजपथ का नाम बदला गया हो इससे पहले भी तीन बार राजपथ का नाम बदला जा चुका है। बताया जाता है कि ब्रिटिश शासन में इस सड़क को किंग्सवे (Kingsway) के नाम से जाना जाता था लेकिन आजादी के बाद इसका नाम बदल के राजपथ कर दिया गया, जो कि किंग्सवे (Kingsway)  का हिंदी अनुवाद है। अब इसका नाम बदलकर कर्तव्यपथ कर दिया गया। राजपथ के नाम बदले जाने के पीछे एक मुख्य कारण ये भी है कि 15 अगस्त को दौरन जब नरेंद्र मोदी ने लाल किले की प्राचीर से कहा था कि हमें देश से औपनिवेशक मानसिकता वाले सभी चिह्नों को खत्म करने की कोशिश पर जोर दिया था।  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

अन्य खबरें