Corona In India: केंद्र सरकार ने राज्यों से बेड और वेंटिलेटरों को तैयार रखने को कहा

New Delhi: देश में बढ़ते कोरोना के मामले के बीच केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने चिंता जताया है। भारत में कोरोना के मामलें में तेजी से बढ़ोतरी देखने को मिल रही है। जिसके बाद से लोगों में भी चिंता बढ़ गई हैं। ऐसे में स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने मंगलवार को कहा कि राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को Covid19 महामारी के प्रबंधन से जुड़ी बुनियादी ढांचे को  एकबार फिर से सही बनाए रखने के लिए कहा जाएगा। उन्होंने बयान देते हुए कहा की इस संबंध से जुड़े देशभर के सभी लोगों को जल्द पत्र भी भेजा जाएगा।

केंद्रीय सरकार ने क्या दिए दिशा-निर्देश

कोरोना महामारी देश में थमने का नाम ही नहीं ले रही हैं, ऐसे में स्वास्थ्य मंत्री ने बढ़ते कोरोना के मामलों की जांच करते हुए देश की मौजूदा स्वास्थ्य विभाग का जायजा लिया हैं। उसके साथ ही देश कहीं फिर से किसी कोरोना वेब के प्रकोप में न आए इसलिए स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने देश के सभी स्वास्थ्य संस्थानों में बेड और वेंटिलेटर सहित सभी उपयोगी बुनियादी ढांचे को कार्यात्मक हो और अगर फिर से कोरोना के मामलों में बढ़ोतरी देखने को मिलता है तो ऐसी स्थिति में ये लोगों को आसानी से उपलब्ध हों सकें। उन्होंने कहा की ‘हम इस बारे में राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को पत्र लिखेंगे’। जिसके साथ ही  स्वास्थ्य मंत्री ने महामारी के दौरान केंद्र-राज्य साझेदारी के तहत बनाए गए बुनियादी ढांचे के बारे में भी कहा की केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोविड-19 के प्रबंधन की दिशा में राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के प्रयासों का समर्थन भी करते है। उन्होंने इसके साथ ही ये भी बताया है की केंद्रीय मंत्रिमंडल ने 8 जुलाई, 2021 को 23,123 करोड़ रुपये की एक योजना, “भारत COVID-19 आपातकालीन प्रतिक्रिया और स्वास्थ्य प्रणाली तैयारी पैकेज को मंजूरी दिया था। यह योजना 1 जुलाई 2021 से 31 मार्च 2022 तक लागू की गई थी।

स्वास्थ्य मंत्रालय ने क्या कहा?

सीएसएस के तहत, राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को ECRP (आपातकालीन Covid19 प्रतिक्रिया योजनाओं) के लिए 14744.99 करोड़ की मंजूरी के माध्यम से समर्थन दिया गया है। यह कुछ केंद्रीय क्षेत्र के साथ  ये एक केंद्र द्वारा प्रायोजित योजना है। इसे बाल चिकित्सा देखभाल सहित स्वास्थ्य बुनियादी ढांचे के विकास पर ध्यान केंद्रित करने और मापने योग्य परिणामों के साथ शीघ्र रोकथाम, पता लगाने और प्रबंधन के लिए तत्काल प्रतिक्रिया के लिए स्वास्थ्य देखभाल प्रणाली की तैयारी में तेजी लाने के लिए लाया गया था।

Share This News

Leave a Reply

Your email address will not be published.