महाराष्ट्र में Omicron के सब-वैरिएंट B.A.4 और B.A.5 के कुल सात मामले मिले,स्वास्थ्य विभाग में मचा हड़कंप

भारत में  Omicron सब-वैरिएंट ने लोगों की चिंता बढ़ा डाली है। ऐसे में बता दें महाराष्ट्र में पहली बार ओमिक्रॉन के सब वैरिएंट B.A.4 के चार और B.A.5 के तीन मामले मिले है। बता दें इस सब-वैरिएंट का पहला और दूसरा केस हैदराबाद में पाया गया था। इसके बाद आज महाराष्ट्र में इसके नए केस मिला है। कोरोना के नए सब-वैरिएंट के इतने केस एकसाथ महाराष्ट्र में मिलने के बाद से स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मच गया है। स्वास्थ्य विभाग की माने तो ये ओमिक्रॉन के स्ट्रेन BA.3 के जैसा ही है। फिलहाल पाए गए सभी 7 मरीज स्वास्थ्य विभाग अपनी कड़ी निगरानी में रखा है। स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के मुताबिक एक मरीज 9 साल का बच्चा भी है। इसके साथ महाराष्ट्र की हेल्थ मिनिस्ट्री के मुताबिक बचे हुए 6 मरीजों ने कोरोना की वैक्सीन ले रखी है।

स्वास्थ्य विभाग सभी मरीजों पर कड़ी निगरानी

महाराष्ट्र में  Omicron के मिले सभी 7 केसों पर स्वास्थ्य विभाग ने कड़ी निगरानी बनाए हुए रखा है। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार इन सभी मरीजों में फिलहाल हल्के लक्षण मिले हैं और घर में ही इनका इलाज किया जा रहा है। हालांकि देश में कोरोना के एक्टिव केस घटकर 14,841 हो गए हैं। लेकिन कोरोना के केसों में 23 प्रतिशत की बढ़त भी देखने को मिला है। लेकिन इसके साथ ही कोरोना के टेस्टिंग के मामले में महाराष्ट्र में तेजी बढ़ा दी गई है। हालांकि विश्वभर के वैज्ञानिकों द्वारा किये गए एक नए अध्ययन में BA.4 और BA.5 वैरिएंट को मूल ओमिक्रॉन से 10 गुना अधिक संक्रामकता वाला बताया जा रहा है।

यह भी पढ़ें: देश में Corona के आए 1,221 नए केस, एक्टिव केसों में हुई गिरावट

विशेषज्ञों का कहना है कि जिस तरह से वैश्विक स्तर पर नए केसों में इजाफा फिर से देखा जा सकता है और ये पूरे विश्व के लिए एक बार फिर खतरे का संकेत हैं। इसके साथ बता दें दक्षिण अफ्रीका समेत दुनिया के कुछ हिस्सों में अप्रैल में  Omicron के उपस्वरूपों के बारे में पता चला था, लेकिन स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक राज्य में अब तक इसका कोई मामला सामने नहीं आया था। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार देश में आज करीब 12 लाख कोरोना की डोज लगाई गई है।

Share This News

Leave a Reply

Your email address will not be published.