WFI में जो होता है, उसे सामने लाना खिलाड़ियों का फर्ज- गीता फोगाट

भारतीय कुश्ती महासंघ के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह के खिलाफ दो दिनों से भारतीय महिला और पुरुष पहलवानों का विरोध प्रदर्शन जारी है। इस प्रदर्शन में बजरंग पुनिया, साक्षी मलिक और विनेश फोगाट जैसे कई बड़े पहलवान जंतर-मंतर पर धरना दे रहे हैं। इन पहलवानों ने बृजभूषण शरण सिंह पर यौन उत्पीड़न समेत कई आरोप लगाए हैं। भारतीय पहलवानों के इस विरोध प्रदर्शन को अब पूर्व रेसलर्स गीता और बबीता फोगाट का भी सपोर्ट मिला है।

दोनों पूर्व रेसलर्स ने इस लड़ाई में भारतीय पहलवानों का साथ देने की बात कही है। कॉमनवेल्थ गेम्स गोल्ड मेडलिस्ट रहीं गीता फोगाट ने लिखा है। ‘हमारे देश के पहलवानो ने बहुत हिम्मत का काम किया है। WFI में जो खिलाड़ियों के साथ होता है उस सच को सामने लाने का हम सब देशवासियों का फर्ज बनता है

गीता फोगाट की बहन और कॉमनवेल्थ गेम्स की तीन बार पदक विजेता बबीता फोगाट ने लिखा है- ‘कुश्ती के इस मामले में, मैं अपने सभी साथी खिलाड़ियो के साथ खड़ी हूँ। मैं आप सबको विश्वास दिलाती हूं कि सरकार से हर स्तर पर इस विषय को उठाने का काम करूंगी और खिलाड़ियों के भावनाओं के अनुरूप ही आगे का भविष्य तय होगा। मैं अपने खिलाड़ियों की इस लड़ाई में उनके साथ हूं।

भारतीय महिला पहलवान विनेश फोगाट ने बुधवार को बृजभूषण पर बड़ा आरोप लगाते हुए कहा था, ‘WFI अध्यक्ष ने कई महिला पहलवानों और कोचों का यौन उत्पीड़न किया है। मैं आज यह कह रही हूं लेकिन मुझे नहीं पता कल मैं जिंदा रहूंगी या नहीं। यहां मेरे साथ जो महिला पहलवान बैठी हुई हैं, उनमें से भी कुछ इस छेड़छाड़ का शिकार हुई हैं। हम हमारे लिए नहीं लड़ रहे, हम कुश्ती को बचान के लिए लड़ रहे हैं.’

Share This News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *